खनन माफियाओं को मिला गोसाईंगंज पुलिस का संरक्षण !

POLICE

अगर आप में है जज्बा सत्य को खोज कर सामने लाने का इरदे हैं नेक हौसला है बुल्नद, और बनना चाहते हैं सच्चे कलम के सिपाही करना चाहते हैं राष्ट्र सेवा तो फोन 9971662786 Email - indiaa2znewsdelhi@gmail.com पर भेजे या वाट्सअप 8076748909, पर संपर्क करें। ए 2 जेड समाचार वेब में छपे समाचारों व लेखों में सम्पादक की सहमति होना आवश्यक नहीं है। समाचार एवं लेखों का उत्तरदायी स्वयं लेखक होगा। मों. न.-9971662786

यहाँ दिनदहाड़े हो रहा है अवैध खनन का गोरखधंधा

ए.आर.उस्मानी / डॉ.एन.के.मौर्य
फैजाबाद। अवैध बालू व मिट्टी खनन को लेकर जहाँ योगी सरकार की नजरें चढ़ी हुई हैं और खनन माफियाओं पर सख्त से सख्त कार्यवाही की जा रही है, वहीं फैज़ाबाद के गोसाईंगंज थाना क्षेत्र में खनन माफियाओं को यहाँ के थानाध्यक्ष का खुला संरक्षण प्राप्त है जिसके चलते यहां दिनदहाड़े खुलेआम मिट्टी व बालू का अवैध खनन किया जा रहा है। पुलिस की साठगांठ का खुलासा इसी बात से होता है कि सब कुछ जानने के बावजूद मित्र पुलिस हाथ पर हाथ धरे बैठी है, जिनके चेहरों पर न तो शासन का खौफ नज़र आता है और न प्रशासन का ही डर दिखाई देता है। कहा तो यहां तक जाता है कि गोसाईंगंज थानाध्यक्ष इसलिए पूरी तरह बेलगाम है, क्योंकि उसे सत्तापक्ष के एक छुटभैया नेता का वरदहस्त मिला हुआ है।
  


     

     सरकार ने अवैध खनन को लेकर सख्ती दिखाते हुए आला हाकिमों को सख्त हिदायत दे रखा है कि अगर कोई खनन माफिया कहीं भी अवैध खनन करता है तो उसे हिरासत में लेकर उस पर सख्त से सख्त कार्यवाही की जाए। लेकिन, शासन का यह आदेश गोसाईंगंज थाने की दीवारों में कैद होकर रह गया है। यहां का थानाध्यक्ष सीएम से भी ऊपर है ! चर्चा के मुताबिक यहाँ का बेखौफ थानाध्यक्ष ऊँचे रसूख के बल पर खनन माफियाओं से मिलकर खुलेआम अवैध खनन का काला धंधा करवाता है और उनसे मोटी रकम ऐंठता है। सूत्रों की मानें तो उक्त थाना क्षेत्र के तमाम इलाकों में अवैध खनन के खेल को बखूबी अंजाम दिया जा रहा है। क्षेत्र में चर्चा है कि यहाँ पुलिस की मिलीभगत से बेखौफ खनन माफिया दिनदहाड़े डंके की चोट पर मिट्टी व बालू का अवैध खनन करवाते हैं और उसे काफी मंहगे दामों में बेचकर अपना हिस्सा साझा करते हैं। 

एसओ को नहीं है सीएम का खौफ !

अफसोस का विषय तो यह है कि जिस कानून के रखवालों को खनन माफियाओं पर दबिश डालकर उन्हें हिरासत में लेकर सलाखों के पीछे डालना चाहिए वही कानून के रक्षक बेदाग खाकी को दागदार बनाकर रुपयों के लालच में खनन माफियाओं को अवैध खनन करने का क्लीनचिट प्रदान करते हैं। ऐसे में इन्हें अपने ऊपर शासन – प्रशासन के गाज़ गिरने का तनिक भी खौफ नहीं है, परिणाम स्वरुप ये बेखौफ होकर शासन और प्रशासन की आँखों में धूल झोंककर इस कार्य को बेरोकटोक अंजाम दे रहे हैं। बेलगाम थानाध्यक्ष को सीएम योगी आदित्यनाथ का भी खौफ नहीं है। उसे रूपये की खातिर हर रिस्क लेने और नौकरी दांव पर लगाने में जरा सा भी गुरेज नहीं है।

 कभी भी फैल सकता है दुश्वारियों का सैलाब

धरती पर हो रहे लगातार खनन से आने वाले समय में लोग कभी भी भारी दुश्वारियों के सैलाब में डूब सकते हैं। इतना ही नहीं, भारी बरसात में भूस्खलन होने का भय अभी से ही लोगों के दिलों को कचोट रहा है। उन्हें डर है कि कहीं ऐसा न हो कि खनन से उठे भूस्खलन का सैलाब उनके घरों को उजाड़ कर उनकी खुशियां छीन ले और हंसती खेलती जिंदगी दुश्वारियों में तब्दील हो जाए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *