बन्दर को बांधकर पीटने वालों के विरुद्ध मुकदमा दर्ज

अगर आप में है जज्बा सत्य को खोज कर सामने लाने का इरदे हैं नेक हौसला है बुल्नद, और बनना चाहते हैं सच्चे कलम के सिपाही करना चाहते हैं राष्ट्र सेवा तो फोन 9971662786 Email - indiaa2znewsdelhi@gmail.com पर भेजे या वाट्सअप 8076748909, पर संपर्क करें। ए 2 जेड समाचार वेब में छपे समाचारों व लेखों में सम्पादक की सहमति होना आवश्यक नहीं है। समाचार एवं लेखों का उत्तरदायी स्वयं लेखक होगा। मों. न.-9971662786

इलाज के दौरान हुई बन्दर की मौत, लोगों में आक्रोश

डॉ.एन.के.मौर्य
वजीरगंज – गोण्डा। स्थानीय थाने के लोहराडाँड़ गांव के बगल पुरवा सराय खत्री में तीन लोगों के विरुद्ध बंदर को लाठियों से पीट कर मरणासन्न कर देने के आरोप में पुलिस ने बुद्धवार को वन्य जीव संरक्षण अधिनियम सहित विभिन्न धाराओं में मुकदमा दर्ज किया है।



     अवगत हो कि लोहराडाँड़ निवासी कन्हैया लाल ने थाने में पड़ोसी गांव के रहने वाले हवलदार, उसके पुत्रों इदरीस व अंग्रेज के विरुद्ध बन्दर को बांधकर उसे पीटकर मरणासन्न करने का आरोप लगाया है। उसने यह भी कहा है कि जब उसने उन लोगों को ऐसा करने से मना किया तो उक्त लोगों ने उसे जान से मारने की भी धमकी दी। तत्पश्चात उसने डायल 100 को सूचना दी। डायल 100 के पहुँचने के बाद जब एस.ओ. को पता चला तो उन्होंने वन विभाग के इंस्पेक्टर कृष्ण चन्द शुक्ला को अवगत कराया, जो अपनी टीम के साथ वहां पहुंचकर बन्दर को अपने कब्जे में ले लिए  और अपने साथ ले जाकर वजीरगंज में उसका इलाज करवाया, मगर बाद में इलाज के दौरान उसकी मौत हो गयी। दूसरी ओर कन्हैयालाल की तहरीर पर पुलिस ने सराय खत्री निवासी उपरोक्त आरोपियों के विरुद्ध विभिन्न धाराओं में केस दर्ज किया है।

* क्या कहते हैं रेंजर

इस प्रकरण में टिकरी रेंजर का कहना है कि इलाज के दौरान बन्दर की मौत हो गयी थी, जिसका पोस्टमार्टम करवाया गया। बाद में लोगों ने रास्ता जाम कर दिया, लेकिन लोगों को समझा बुझाकर उसे दफनाया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *