नौकरी दिलाने के नाम पर महिला का करता रहा यौन शोषण

अगर आप में है जज्बा सत्य को खोज कर सामने लाने का इरदे हैं नेक हौसला है बुल्नद, और बनना चाहते हैं सच्चे कलम के सिपाही करना चाहते हैं राष्ट्र सेवा तो फोन 9971662786 Email - indiaa2znewsdelhi@gmail.com पर भेजे या वाट्सअप 8076748909, पर संपर्क करें। ए 2 जेड समाचार वेब में छपे समाचारों व लेखों में सम्पादक की सहमति होना आवश्यक नहीं है। समाचार एवं लेखों का उत्तरदायी स्वयं लेखक होगा। मों. न.-9971662786

अदालत के आदेश पर चार लोगों के विरुद्ध विभिन्न धाराओं में केस दर्ज 

डॉ. एन. के. मौर्य
वजीरगंज, गोण्डा।
स्थानीय थाना क्षेत्र की एक महिला ने न्यायालय के आदेश पर चार व्यक्तियों के विरुद्ध रेप, धोखाधड़ी से धन हड़पने व गालियां देते हुए जान से मार डालने की धमकी का केस दर्ज कराया है।




      वजीरगंज थाना क्षेत्र के एक गांव की महिला ने न्यायालय सिविल जज (सीनियर डिवीज़न) एफटीसी गोण्डा को प्रार्थना पत्र देकर अवगत कराया था कि उसके पति की लगभग 5 वर्ष पूर्व मार्ग दुर्घटना में मृत्यु हो गई थी। तत्पश्चात उसे कृषक दुर्घटना बीमा योजना के तहत 5 लाख रुपये शासन से मिला था। विपक्षी राम निहाल निवासी बहादुरा लाला साईं ने कहा कि तुम अगर घूस के रूप में 1, 50, 000 रुपये दो तो तुम्हारी नौकरी चपरासी के पद पर लगवा दूंगा। नौकरी की चाह में उसने क्रमशः 85000, 60000 व 10000 रुपये यानी कुल 155000 रुपये विपक्षी को दे दिया। आरोप है कि विपक्षी ने महिला के पास बुक को अपने पास रख लिया। पीड़ित महिला के मुताबिक़ आरोपी ने कई बार उसका यौन शोषण भी किया।
       नौकरी न मिलने पर जब वह 1 जुलाई को आरोपी के घर रुपये व पासबुक मांगने गई तो विपक्षी राम निहाल व उसके पुत्रों मन्नू,झिंकऊ व उमा शंकर ने उसे भद्दी-भद्दी गालियां देते हुए जान से मार डालने की धमकी दी तथा उसे वहां से भगा दिया। वादिनी ने उक्त प्रकरण की स्थानीय थाने पर तहरीर देते हुए 10 अगस्त को पुलिस अधीक्षक को भी मामले से अवगत कराया। मगर जब कोई कार्रवाई न हुई तो उसने थक हारकर 12 सितम्बर को न्यायालय का दरवाजा खटखटाया। अदालत के आदेश पर वजीरगंज पुलिस ने राम निहाल, मन्नू, झिनकऊ व उमा शंकर के विरुद्ध विभिन्न धाराओं में केस दर्ज किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *