सांसद पुत्र की गिरफ्तारी में रोड़ा बन रही एसपी की रिश्तेदारी!

अगर आप में है जज्बा सत्य को खोज कर सामने लाने का इरदे हैं नेक हौसला है बुल्नद, और बनना चाहते हैं सच्चे कलम के सिपाही करना चाहते हैं राष्ट्र सेवा तो फोन 9971662786 Email - indiaa2znewsdelhi@gmail.com पर भेजे या वाट्सअप 8076748909, पर संपर्क करें। ए 2 जेड समाचार वेब में छपे समाचारों व लेखों में सम्पादक की सहमति होना आवश्यक नहीं है। समाचार एवं लेखों का उत्तरदायी स्वयं लेखक होगा। मों. न.-9971662786

महेश तिवारी – प्रतीक भूषण प्रकरण……….

महेश तिवारी ने जताई मतगणना में गड़बड़ी की आशंका

बोले – सांसद पुत्र से जान का खतरा

              महेश पर हमले के आरोपी सांसद पुत्र प्रतीक भूषण सिंह

ए. आर. उस्मानी
गोण्डा।
सदर सीट से शिवसेना प्रत्याशी महेश नारायण तिवारी पर भाजपा प्रत्याशी प्रतीक भूषण सिंह द्वारा कथित रूप से कराए गए जानलेवा हमले के तीन दिन बीत गए, लेकिन खाकी आज भी वहीं खड़ी है, जहां से 27 फरवरी को चली थी ! नगर पुलिस द्वारा अब तक कोई एक्शन न लिए जाने के बाद महेश तिवारी मीडिया से मुखातिब हुए और उन्होंने यह आरोप लगाकर सनसनी फैला दी कि पुलिस अधीक्षक सुधीर कुमार सिंह पर प्रतीक भूषण की गिरफ्तारी न करने का भारी दबाव है क्योंकि वे बीजेपी सांसद के रिश्तेदार हैं ! उन्होंने कहा कि इसीलिए एसपी हाथ पर हाथ धरे बैठे हैं और आरोपी मुझे और मेरे समर्थकों को सारे शहर में धमकाता फिर रहा है। महेश का यह भी आरोप है कि एसपी ने उनके ऊपर हुए हमले के बाद उनकी बात सुनने के बजाय घर पर मौजूद समर्थकों पर ही लाठियां भंजवाई।

       शिवसेना प्रत्याशी महेश तिवारी ने मीडिया से कहा कि एसपी सुधीर सिंह नहीं चाहते कि आरोपियों पर कोई कार्रवाई हो क्योंकि वे कैसरगंज सांसद और जानलेवा हमले के आरोपी भाजपा प्रत्याशी प्रतीक भूषण सिंह के पिता बृजभूषण शरण सिंह के रिश्तेदार होने के साथ ही मुरादाबाद के बीजेपी सांसद के सगे साढू हैं। महेश ने कहा कि सम्बंधों के चलते ही आरोपी गाड़ियों के काफिले में अब भी सरेआम घूम रहा है और उसकी गिरफ्तारी की हिम्मत सुधीर कुमार सिंह नहीं कर पा रहे हैं । उन्होंने आशंका जताई कि काउंटिंग के दिन भी गड़बड़ी हो सकती है। महेश ने बताया कि मैंने लिखित में यह शिकायत की है कि आरोपी और

  पुलिस अधीक्षक में रिश्तेदारी होने की वजह से किसी ठोस कार्रवाई पर मुझे शक है। आरोप लगाया कि एसपी सुधीर सिंह मतगणना के दिन मुझे हराने के लिए भी गड़बड़ी कर सकते हैं। उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि सांसद बृजभूषण शरण सिंह व उनके पुत्र प्रतीक सिंह उनकी हत्या करा सकते हैं। इस बाबत शिकायत चुनाव आयोग में भी की गई है।

   बताते चलें कि 27 फरवरी को मतदान के दिन भाजपा प्रत्याशी और उनके दर्जनों की संख्या में समर्थकों ने महेश तिवारी व उनके समर्थकों पर कथित रूप से लोहे की राॅड और हाकियों से जानलेवा हमला कर दिया था। फायरिंग की भी बात कही जा रही है। इस हमले में महेश तिवारी तो बच गए थे, लेकिन उनके चार समर्थकों को गंभीर चोटें आईं और कई गाड़ियों को भी क्षतिग्रस्त कर दिया गया था। भारी दबाव के चलते पुलिस को प्रतीक भूषण सिंह व 40 अन्य अज्ञात हमलावरों के विरुद्ध कोतवाली नगर में धारा 147, 148, 149, 323, 506, 452 व 307 के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया गया, लेकिन गिरफ्तारी नहीं की जा रही है।

sp ghonda
मेरी किसी से कोई रिश्तेदारी नहीं : एसपी

   शिवसेना प्रत्याशी महेश नारायण तिवारी द्वारा लगाए गए आरोपों के बारे में जब एसपी सुधीर कुमार सिंह से बात की गई तो उन्होंने कहा कि अगर मेरी रिश्तेदारी है तो मेरा रिश्ता क्या है यह भी बता दें महेश तिवारी? उन्होंने कहा कि मेरी किसी से भी कोई रिश्तेदारी नहीं है। हालांकि सुधीर सिंह की रिश्तेदारी मुरादाबाद के भाजपा सांसद से है। उन्होंने इस बात से इंकार भी नहीं किया और कहा कि मैं अगर उनका रिश्तेदार हूं तो क्या वो महेश तिवारी के अपोजिट में लड़ रहे हैं ?


Fields marked with an * are required

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *